content top

Dubki To Show Real Side Of Police System In North India

A new web film is all set to send shivers down shine that exposes the sad state of the police system in North India. The movie narrates how the female cops are treated and what all a female needs to undergo while doing their service.

In 2020, a lady constable caused a stir and made headlines when she admitted in media that she was molested inside the police station.

Inspired by this real incident, the web film is produced by Anand Kumar Productions Pvt ltd along with eminent producer Saurav Dubey.

The story revolves around a female cop who gets badly treated and molested by the policemen inside a police station. The film exposes the sad state of the police system in the state wherewith no fear the Khakimen openly molest, harass and illtreat the fellow women colleagues.

Shot in the rustic locations near UP’s Meerut, the movie stars Pankaj Jha, Gavie Chahal and a theatre artist Sonia in key roles.

Big OTT players are in the competition to bag the film however, the makers are also eyeing to convert this as web-series.

Read More

Actress Reddhima Tiwari, Shweta Sinha,Anjali Pandey, Payal Singh, Were Honored With Dadasaheb Phalke Indian Television Award

Actress Reddhima Tiwari, Shweta Sinha,Anjali Pandey, Payal Singh, Were Honored With Dadasaheb Phalke Indian Television Award

Mumbai.  The Dadasaheb Phalke Indian Television Award 2021 was organized by Filmora Media and Entertainment in Oshiwara, Andheri West Mumbai.  On the same occasion, actress Reddhima Tiwari was awarded the above award.  Along with Amarjeet Mishra, Minister of State for Maharashtra and Vice Chairman of Film City, Dhadak Kamgar Supremo Abhijeet Rane, singer Aman Trikha, musician Dilip Sen, actress Shweta Sinha, Anjali Pandey, Payal Singh, Sandeep Soparkar, including Zafar Peerzada, media persons Shailesh Patel, Priya Singh and  Many distinguished people like Sohail Fidai were honored based on their notable works in Bollywood and social sector.

Let us tell you that Reddhima Tiwari has starred in ‘Begum Jaan’ with Vidya Balan besides many TV shows like ‘Rishte se badi pyaas, do dil ek jaan, in-laws Genda Phool, Dosti Yaariyan Manmarjiyaan, Ghulam, Divya Darshan.

Let me tell you that the in-laws of Simar, the arrival of Actress Sveta Sinha made the show go green, Sveta Sinha was looking amazing in an out fit of gray color, as well as actress Anjali Pandey looked amazing in black out fit,  In the same blank Sarai, international nail artist Payal Singh, was also worth seeing on stage, Payal Singh is a witness who trained hundreds of women on their feet and today she is running her own business.

Organizer Akhilesh Singh said that the main objective of this award show is inspired by women empowerment.  Apart from Bollywood, I have taken this step in view of the unprecedented work of women in the social sector and their enthusiasm.  I feel proud to honor them.

Read More

Digital Star Satish Ray’s quirky new avatar in ‘Pandeyji Zara Sambhalke!’

Digital Star Satish Ray’s quirky new avatar in ‘Pandeyji Zara Sambhalke!’

डिजिटल स्टार सतीश रे दिखेंगे पांडेजी ज़रा संभलके‘ में एक नये अवतार में !

 आज की शहरी ज़िंदगी पूरी तरह से तनाव और अन्य जटिलताओं से परिपूर्ण होती है. ऐसे में हंसने-हंसाने की ज़रूरत पहले से कहीं ज़्यादा महसूस की जाने‌ लगी है. ऐसे में अब आपको हंसाने के लिए कॉमेडी सीरीज़  ‘पांडेजी ज़रा संभलके’ जल्द ही आपके सामने पेश होगी.

इस सीरीज़ की कहानी मनोज पांडे (सतीश रे) नामक एक ऐसे शख़्स के इर्द-गिर्द घूमती है जो अपनी गर्लफ़्रेंड दिबोशी (डॉली चावला) के साथ लिव-इन-रिलेशनशिप में रहता है. उसकी ख़्वाहिश हमेशा से ही दिबोशी से शादी करने की रही है लेकिन उसकी ज़िंदगी में एक ऐसा मोड़ आता है जब वो ख़ुद को अपनी बचपन की दोस्त इशिता (कनिका खन्ना) की तरफ़ आकर्षित पाता है जिससे फिल्म में हास्य की नई नई परिस्थितियों का निर्माण होता है. अभिनेता प्रकाश जैस इस सीरीज़ में सतीश रे के दोस्त नरेश के अहम रोल में नज़र आएंगे.

उल्लेखनीय है कि इससे पहले सतीश रे द्वारा निभाए गये ईमानदार शर्मा, अल्फ़ा पांडे और बबन भोला जैसे किरदार काफ़ी लोकप्रिय साबित हुए थे. उनके शो ‘ईमानदार इंटरव्यू’ के साथ साथ भोजपुरी और बिहारी लहज़े में उनके बोलने का अंदाज़ भी देशभर के युवाओं को ख़ासा पसंद आया था. अब इस सीरीज़ में सतीश रे का फिर से एक नया अंदाज़ देखने को मिलेगा.

‘पांडे जी संभलके’ का निर्माण किया है मैत्री फिल्म प्रोडक्शन के गनु दादा और अमोल भोसले ने जबकि इस सीरीज़ को विनय शांडिल्य ने निर्देशित किया है. वहीं निखिल रायबोले और भूपेंद्रकुमार नंदन ने‌ इस सीरीज़ को मिलकर लिखा है.

कॅफे स्टुडिओज के बैनर तले बनी सीरीज ‘पांडे जी ज़रा संभलके’ 17 फरवरी से MX प्लेयर पर उपलब्ध होगी. इस सीरीज का पोस्टर वैलेंटाइन डे के एक दिन बाद जारी किया जाएगा. ठीक ऐसे वक्त पर जब पांडेजी हमेशा के लिए अपनी वैलेंटाइन की सहेली के प्रति आकर्षित हो रहे होंगे!

Read More

CORONA WARRIORS JITENDER SINGH SHUNTY & JYOTJEET FELICITATED AT ITA AWARDS 2021

CORONA WARRIORS JITENDER SINGH SHUNTY & JYOTJEET FELICITATED AT ITA AWARDS 2021

आईटीए अवार्ड्स 2021 में कोरोना वॉरियर्स  जितेंदर सिंह शंटी और ज्योतजीत हुए सम्मानित

भारत के 4 वां सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार पद्मश्री 2021 से सम्मानित कोरोना वॉरियर्स श्री जितेन्द्र सिंह शंटी को (संस्थापक- एनजीओ शहीद भगत सिंह सेवा दल) बीते दिनों 14 फरवरी 2021 को मुंबई के प्राइम फोकस, फिल्म सिटी में इंडियन टेलीविजन अवार्ड्स 2021 में भी सम्मानित किया गया। उनके साथ साथ उनके बेटे ज्योतजीत (अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर प्रशंसित आपदा प्रबंधन विशेषज्ञ और चेयरपर्सन-डिजास्टर मैनेजमेंट सेल, SBSSD) को भी सम्मानित किया गया। पिता-पुत्र की जोड़ी, दोनों ने  कोविड -19 महामारी के दौरान प्रतिष्ठित सेवाएं प्रदान की हैं, कोरोना वारियर्स के रूप में कोविड -19 के लिए नि: शुल्क  वैन सेवा जैसी बहुत जरूरी सेवाएं प्रदान करके, राहत और बचाव में कार्य कर रहे हैं। तथा कोरोना रोग के मृतक के लिए नि: शुल्क अंतिम संस्कार सेवाएं भी प्रदान की हैं।

अब तक वे हज़ारों की संख्या में डेड बॉडीज का अंतिम संस्कार कर चुके हैं। जो डेड बॉडीज लावारिस थी या जहाँ परिवार ख़ुदकुशी कर रहे थे या गहरे डर में थे और दाह संस्कार नहीं कर सकते थे। वे सच्चे कोरोना वॉरियर की उनकी मदद करते हैं। मानवता और राष्ट्र के लिए अपने जीवन को खतरे में डालते हैं। अब  कोविड -19 टीकाकरण अभियान के दौरान, शहीद भगत सिंह सेवा दल की एम्बुलेंसों को राष्ट्र की सेवा में नियुक्त किया गया है। मानव जाति की मानवीय सेवा के कारण शंटी और जीत को भारतीय टेलीविजन पुरस्कार 2021 में सम्मानित किया गया।

बस उम्र 27 साल, युवा और गतिशील ज्योतजीत, एम.एससी डिज़ैस्टर मैनेजमेंट (इंग्लैंड) प्रसिद्ध अंतर्राष्ट्रीय डिज़ैस्टर मैनेजमेंट विशेषज्ञ और एक सामाजिक कार्यकर्ता है। वह एनजीओ शहीद भगत सिंह सेवा दल के आपदा प्रबंधन प्रकोष्ठ के अध्यक्ष हैं।वह अपने आपदा प्रबंधन सेल के माध्यम से आपात स्थितियों और आपदाओं के दौरान आपातकालीन प्रतिक्रिया सेवाओं और मानवीय राहत का विस्तार कर रहे है। वह भारत में आपातकालीन सेवाओं की उपलब्धता, पहुंच और प्रभावशीलता को बढ़ावा देने के माध्यम से जीवन बचाने की दिशा में काम कर रहे है। कोरोना वॉरियर और सर्वाइवर, खुद ही लिड करना,  कोविड पॉजिटिव डेडबॉडी का दाह संस्कार करते हैं और  कोविड मरीजों को अस्पतालों तक पहुंचाने के लिए खुद ही एंबुलेंस चलाते हैं। वह जागरूकता पैदा करने और भारत में आपदा तैयारी की संस्कृति विकसित करने की दिशा में प्रतिबद्ध है। उन्होंने एंबुलेंस पायलट- एस्कॉर्ट सर्विस की इमरजेंसी सर्विसेज प्रोजेक्ट को सफलतापूर्वक विकसित किया है और एंबुलेंस, ब्लड डोनर्स, ऑर्गन ट्रांसप्लांट केसेस आदि से जान बचाई है। चिकित्सा सुविधाओं के लिए मरीजों की आपातकालीन प्रतिक्रिया समय को बचाने के लिए जो अक्सर समझौता किया जाता है क्योंकि एम्बुलेंस ट्रैफिक जाम में अक्सर फंस जाते हैं। इसके अलावा, #AmbulanceFirst और # ReserveLane4Ambulance उनके अभियान हैं जो आम जनता के बीच जागरूकता पैदा करने के लिए एम्बुलेंस और सरकारों को पीक घंटों के दौरान एम्बुलेंस के लिए एक लेन आरक्षित करने के लिए रास्ता देते हैं। इन अभियानों ने विभिन्न डिजिटल प्लेटफॉर्म पर लाखों लोगों का भारी समर्थन हासिल किया है।

उनके एनजीओ शहीद भगत सिंह सेवा दल 1997 से कई मानवीय सेवाएं प्रदान कर रहे है। वह दिल्ली में 24×7 मुफ़्त एम्बुलेंस सेवा चलाते है, जो मरीजों को इलाज की सुविधा जैसे अस्पतालों में स्थानांतरित करना है। रोगियों की श्रेणी में कार्डीऐक अरेस्ट के मामले, उपचार के दौर से गुजर रहे रोगी, सड़क-दुर्घटना, आघात-मामले आदि शामिल हैं। अब तक, उन्होंने 39,450 से अधिक रोगियों को पहुंचाया और कई लोगों की जान बचाई। उनके पास हार्से-वैन का एक बेड़ा भी है जो लाशों को दाह संस्कार या दफन करने के लिए मुफ्त ले जाते हैं। इन हार्ट वैन में 54,780+ से अधिक शवों को रखा गया है। वे सभी गरिमा के साथ नि: शुल्क सेवा द्वारा गरीबों और जरूरतमंदों की मदद करते हैं। उन्होंने अब तक 16,562+ शवों के नि: शुल्क दाह संस्कार में मदद की है।

गैर सरकारी संगठन के संस्थापक, शंटी का स्वैच्छिक रक्तदान के क्षेत्र में महत्वपूर्ण योगदान है। उन्होंने स्वयं 102 बार रक्तदान किया है और 150 रक्तदान शिविरों का आयोजन और ऐप प्रदान किया है। जरूरतमंदों को 22,120 यूनिट रक्त नि: शुल्क उपलब्धि को हासिल करने के लिए उनका नाम द वर्ल्ड बुक ऑफ रिकॉर्ड्स, लंदन में दुनिया के पहले सिख के रूप में दर्ज है। आपदा प्रबंधन के क्षेत्र में, NGO के पास एक आपदा प्रबंधन सेल है, जिसके तहत विभिन्न आपातकालीन प्रतिक्रिया टीमें एम्बुलेंस सेवा, बचाव सेवाएं, चिकित्सा देखभाल, मुफ्त की लागत-आपदा राहत और सहायता प्रदान करने वाली आपात स्थितियों में प्रभावी ढंग से प्रतिक्रिया देती हैं, मानवीय प्रतिक्रिया-शिविर स्थापित करती हैं, भोजन, सहायता और राहत, शिविर प्रबंधन, डब्ल्यूएएसएच (जल, सेनिटेशन ऐन्ड हाइजीन) सेवाएं प्रदान करना और आपदा से मरने वाले लोगों के शवों को परिवहन और अंतिम संस्कार करने की एक अनूठी सेवा। एनजीओ ने गुजरात भूकंप 2001, नेपाल भूकंप 2015, चेन्नई बाढ़ 2015, केरल बाढ़ 2018 आदि सहित विभिन्न आपदा स्थलों पर जमीनी स्तर पर काम किया है।

इन सेवाओं में और इजाफा करते हुए, श्री शंटी और श्री ज्योतजीत लोगों को प्रशीतित मोर्चरी बॉक्स प्रदान करते हैं, जहाँ उनके दाह संस्कार /दफनाने से पहले शव को थोड़े समय के लिए संरक्षित किया जाना चाहिए। श्री शंटीने 11,580+ से अधिक लाशों के लिए यह सेवा प्रदान की है।

“मैं आज यह सम्मान प्राप्त करने के लिए विनम्र हूं। हम शहीद भगत सिंह सेवा दल पिछले ढाई दशकों से मानवतावादी सेवाओं का विस्तार कर रहे हैं और जब कोविड -19 आक्रमण हुवा था, तो हमारी टीमों ने पहले से अधिक काम करने का निर्णय लिया क्योंकि अगर हमने अपनी सेवाओं को समय पर प्रदान नहीं किया होता और जबकि राष्ट्र को इसकी जरूरत थी, तो हम कभी साफ विवेक के साथ नहीं रह सकते थे। अब हम गर्व के साथ कह सकते हैं कि हमारी टीमों ने अपने खून पसीने की कमाई और यहां तक कि जीवन भी दे दिया, जब हमारे एक एम्बुलेंस ड्राइवर  कोविड की मृत्यु हो गई। हमने वह सब किया जो हम कर सकते थे और यह कोई दायित्व नहीं था, लेकिन सिर्फ हमें हमारे राष्ट्र के लिए प्यार हैं। यदि कोई विकल्प दिया जाता है, तो हम अपने राष्ट्र के लिए बार-बार मर सकते हैं। मैं ऐसे लोगों का शुक्रगुजार हूं, जिन्होंने हमारी एनजीओ की कट्टर सेवाओं के मूल्य को पहचाना और समझा। ” जितेन्द्र सिंह शंटी (संस्थापक- SBSSD) ने कहा

श्री ज्योतजीत ने कहा “मेरा मानना है कि हर जीवन मायने रखता है, और इसलिए हमें खुद को आपदाओं के लिए तैयार करना चाहिए और आपदा की तैयारी पर जोर देकर सक्रिय रुख पर काम करना चाहिए क्योंकि यह समय की आवश्यकता है। अगर हम अभी से तैयारियों पर ध्यान दें तो आपदा के बाद शवों को बचाया जा सकता है। शवों पर ध्यान केंद्रित करना, मेरा मानना है कि गरिमा न केवल जीवन में बल्कि मृत्यु में भी है। प्रत्येक व्यक्ति को एक गरिमापूर्ण मृत्यु का अधिकार है क्योंकि हर व्यक्ति अपने अंतिम संस्कार को सम्मानपूर्वक संपन्न करने का हकदार है। किसी को भी उनके अंतिम संस्कार से वंचित नहीं किया जाना चाहिए। इसलिए, हम मृतकों के प्रबंधन के लिए अंतिम संस्कार सेवाओं का विस्तार कर रहे हैं, जो धर्म के विशिष्ट रीति-रिवाजों और परंपराओं का पालन करते हुए अंतिम संस्कार / दफन करते हैं। ”

Read More

Arvind Akela Kallu and Pramod Shastri’s film trailer getting a great response on social media

Arvind Akela Kallu and Pramod Shastri’s film trailer getting a great response on social media

अरविन्द अकेला कल्लू और प्रमोद शास्त्री की प्यार तो होना ही था का ट्रेलर हुआ आउट, मिल रहा है शानदार रिस्पांस

भोजपुरी सिनेमा के डायनामिक डायरेक्टर प्रमोद शास्त्री हमेशा कुछ नया लेकर आते हैं। इस बार भी वह भोजपुरिया दर्शकों के लिए एक अनूठी फ़िल्म लेकर आ रहे हैं जिसका नाम है “प्यार तो होना ही था”। सुपर स्टार अरविन्द अकेला कल्लू स्टारर फ़िल्म प्यार तो होना ही था का ट्रेलर आज वेलेंटाइन डे पर डीआरजे रिकॉर्ड्स से रिलीज होते ही खूब पॉपुलर हो रहा है। दिल को छू लेने वाला युवा सुपरस्टार ‘अरविन्द अकेला कल्लू’ और निर्देशक ‘प्रमोद शास्त्री’ की भोजपुरी फिल्म “प्यार तो होना ही था” का यह ट्रेलर सभी को बहुत अच्छा लग रहा है।

Link –

 

ए.सी.एच. एंटरटेनमेंट प्रा.लि. बैनर तले निर्मित की गई युवा सुपरस्टार अरविन्द अकेला कल्लू और निर्देशक प्रमोद शास्त्री की हैट्रिक भोजपुरी फिल्म प्यार तो होना ही था का ट्रेलर वेलेंटाइन डे पर डीआरजे रिकॉर्ड्स म्यूजिक कंपनी के यूट्यूब चैनल से आउट किया गया है। इस फिल्म की शूटिंग उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के रमणीय स्थलों पर की गई है। इस फिल्म का निर्माण फिल्म निर्माता अमित हिंडोचा ने भव्य पैमाने पर किया है। काफी मंझे हुए फिल्म निर्देशक प्रमोद शास्त्री काफी सुलझे हुए फिल्म डायरेक्टर हैं। उन्होंने यह एक स्वस्थ मनोरंजक व संपूर्ण पारिवारिक फिल्म का निर्देशन किया है। हर वर्ग के दर्शकों के मनोरंजन को ध्यान में रखकर इस फिल्म की मेकिंग की है। भोजपुरिया दर्शकों के बीच एक बार फिर निर्देशक प्रमोद शास्त्री, नायक अरविन्द अकेला कल्लू की सुरपहिट जोड़ी खूब धमाल मचाने वाली है।

फ़िल्म का ट्रेलर बहुत ही शानदार है। कल्लू का एक से बढ़कर एक एक्शन देखने लायक है। ट्रेलर बेहतरीन गानो से भरपूर है। कल्लू के फैन्स के लिए यह एक तोहफा है।

फिल्म प्यार तो होना ही था के लेखक एस. के. चौहान, संगीतकार ओम झा, गीतकार प्यारेलाल यादव कवि, एस. के. चौहान, सुमित सिंह चन्द्रवंशी, प्रकाश बारूद हैं। छायांकन जगमिंदर सिंह जग्गी, नृत्य कानू मुखर्जी, मारधाड़ दिनेश यादव, कला महेंद्र सिंह का है। कार्यकारी निर्माता दीपक सिंह, लाइन प्रोड्यूसर शाहनवाज हुसैन हैं। निर्माण सलाहकार कुमार विशाल वर्मा हैं। फिल्म प्रचारक रामचन्द्र यादव हैं। मुख्य कलाकार अरविन्द अकेला कल्लू, यामिनी सिंह, कनक यादव, सुशील सिंह, देव सिंह, अनूप अरोरा, समर्थ चतुर्वेदी, बालेश्वर सिंह, रोहित सिंह मटरू, पुष्पा वर्मा, सुधा झा, अशोक शुक्ला, बबलू खान, चंदन कश्यप, आशीष हरपाल सिंह, दीपक सिंह, प्रकाश शर्मा, अजितेश पंडित आदि हैं।

Read More

Pawan Singh and Neelam Giri’s Holi song crosses 10 million views a day

Pawan Singh and Neelam Giri’s Holi song crosses 10 million views a day

पवन सिंह, नीलम गिरी का होली गीत लहँगवा लस-लस करता’ ने एक दिन में किया 10 मिलियन व्यूज पार

वर्ल्डवाइड रिकार्ड्स भोजपुरी म्यूजिक कंपनी से रिलीज पावर स्टार पवन सिंह का पहला होली गीत लहँगवा लस-लस करता’ ने जबरदस्त रिकॉर्ड बनाते हुए 24 घंटे में 10 मिलियन व्यूज का रिकॉर्ड बनाया है। यह होली गीत रिलीज होने के मात्र 3 घंटे में ही 2 मिलियन व्यूज, 6 घंटे में 4 मिलियन व्यूज और 8 घंटे में 6 मिलियन व्यूज, 14 घन्टे में 9 मिलियन व्यूज यूट्यूब पर पार करके तांडव मचाया है। इतना बड़ा रिकॉर्ड बनाकर पवन सिंह ने तहलका मचा दिया है। कह सकते हैं कि यूट्यूब पर पवन सिंह और नीलम गिरी का यह वीडियो होली सॉन्ग तांडव मचा दिया है।

Link –

https://youtu.be/xY9_55sFFKcy

उल्लेखनीय है कि भोजपुरी के पॉवर स्टार और गायकी के बेताज बादशाह पवन सिंह का 2021 का पहला होली गीत ‘लहँगवा लस-लस करता’ रिलीज होते ही वायरल हो गया है। गाने को पवन सिंह ने अपनी मधुर आवाज में गाया है। यह सांग तेजी से वायरल हो रहा है। इस विडियो सांग में पवन सिंह और अभिनेत्री नीलम गिरी होली के रंग में डूबे नजर आ रहे हैं।

वीडियो में पवन सिंह के साथ नीलम गिरी कयामत ढा रही है। पहली बार किसी भोजपुरी होली गीत में काफी तादाद जूनियर डांसर नाचते हुए दिख रहे। यह वीडियो काफी खर्च करके और बड़ा सेट लगाकर शूट किया गया है जो कि वीडियो में दिख रहा है। इस होली धमाका में पवन सिंह का मस्ती भरा अंदाज और नीलम गिरी की अदाएं देखकर लोग खूब एंजॉय कर रहे हैं।

वर्ल्डवाइड रिकार्ड्स प्रस्तुत इस होली गीत को अरुण बिहारी ने लिखा है, जिसे मधुर संगीत से छोटे बाबा (बसही) ने सजाया है। गीत का निर्देशन रवि पंडित ने किया है। नृत्य निर्देशन राहुल, रितिक ने किया है। गीत के एडिटर दीपक पंडित, परिकल्पना दीपक सिंह, रिकॉर्डिंग स्वरा स्टूडियो वाराणसी, आशीर्वाद माता-पिता, अजीत सिंह (जोकहरी), सहयोग अमित सिंह का है।

गौरतलब है कि पवन सिंह इस सांग को मिल रहे रिस्पॉन्स से बेहद उत्साहित हैं।

उन्होंने सभी देखने वालों को तहेदिल से धन्यवाद दिया है। वर्ल्डवाइड रिकॉर्ड्स के ओनर रत्नाकर कुमार ने कहा कि पवन सिंह के इस होली गीत का सभी को हफ्तों से इंतेज़ार था। उनके फैन्स के लिए यह गीत एक बड़ा तोहफा है। पवन सिंह और नीलम गिरी ने दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया है।

Read More
content top