content top

Producer Of Film PM Narendra Modi – Acharya Manish Says We Are Not Daunted By Threats Issued To Our Team

Producer Of Film  PM Narendra  Modi  – Acharya Manish Says We Are Not Daunted By Threats Issued To Our Team

New Delhi, October 15, 2020: “Today is a historic day for Indian cinema, the first biopic on a serving PM – Narendra Modi has become the first movie to hit theatres after lockdown. The re-release of ‘PM Narendra Modi’ has been done in theatres that have reopened today, the film could not be released comprehensively earlier due to the political controversy ahead of the 2019 Lok Sabha election.” stated Acharya Manish, Producer of ‘PM Narendra Modi’ during a press conference held at Le Meridien, New Delhi. Acharya Manish was joined by the film’s writer & creative director Sandip Ssingh at the press meet.

Talking about the threats being issued to the makers of the film online, Acharya Manish said, “We are not daunted by the threats issued to our team.” It is noteworthy that a senior member of the team behind the Vivek Oberoi-starrer PM Narendra Modi biopic, Amit B Wadhwani, has recently lodged a complaint with the cyber cell in Mumbai after receiving death threats online.The film ‘PM Narendra Modi’, which has re-released, will be screened across the country.

Sharing details, Sandip Ssingh, writer & creative director, said, “The movie depicts the motivational journey of Indian Prime Minister Narendra Damodardas Modi from his humble beginnings to his years as Gujarat, Chief Minister and to his landmark win at the 2014 election, and finally becoming the Prime Minister of India.”

Acharya Manish added, “I am fortunate to be part of this amazing biopic, which is beautifully directed by Omung Kumar.  The journey of honorable PM Modi in itself is very inspiring and the movie will certainly boost up the morale  of the country’s youth in the tough circumstances of the pandemic, which is still unabated.”

Talking about the film,  Sandeep Ssingh added, “It is a great moment for the entertainment industry as cinemas have re-opened today, after the prolonged lockdown. What better way to celebrate this than watching this motivational story based on one of the most inspiring and resilient leaders of India -Narendra Modi. Our whole team is proud to be part of this historic moment.”

“Moreover, due to some political agendas, when it was last released, the film couldn’t be launched in the way we were planning. We’re now hoping the film gets a fresh life in the theatres and makes for a great watch for the people of the nation.” said Sandeep.

On being asked about the connection of the Bihar election with the movie release, Acharya Manish elucidated, “The allegation that the re-release has been timed just before the Bihar Assembly Polls is not at all tenable. For a very long time, we were mulling over the re-release date. After the prolonged lockdown, fortunately we got the chance to re-release on October 15 on the very first day of re-opening of cinemas. That the Bihar elections is around the corner happens to be just a coincidence.”

  

From a tea seller to joining the RSS Shakha, and even the phase of the Godhra riots controversy in Modi’s life, all have been well encapsulated in the movie. The film has brought all the shades of Narendra Modi’s life live on screen in a 2 hours 10 minutes long movie. Vivek Oberoi, who is playing Modi’s character in the movie, has donned as many as nine different looks.

Read More

Acid Survivors Open Super Market at Mumbai Chitra K Wagh Inaugurated Daulat Khan and Krishna Kumar Took A New Step

Acid Survivors Open Super Market at Mumbai Chitra K Wagh Inaugurated  Daulat Khan and Krishna Kumar Took A New Step

एसिड सर्वाइवर्स ने खोला सुपर मार्किट चित्रा के वाघ ने किया उदघाटन दौलत खान और कृष्णा कुमार ने उठाया नया कदम
मुंबई: एसिड सर्वाइवर्स साहस फाउंडेशन एसिड सर्वाइवर्स के द्वारा”ऑल इन वन सुपर मार्केट” को लॉन्च करने के लिए एक सामाजिक कार्यक्रम आयोजित करने जा रहा है। यह कार्यक्रम 10 अक्टूबर, शनिवार, की शाम को रंगशारदा होटल, लीलावती अस्पताल के पास, ओएनजीसी कॉलोनी, बांद्रा पश्चिम मुंबई में आयोजित किया जाएगा। इसकी मुख्य अतिथि श्रीमती चित्रा किशोर वाघ (मुंबई बीजेपी की उपाध्यक्ष) और श्री दीपक सावंत फिल्म निर्देशक और अमिताभ बच्चन के मेकअप और हेयर स्टाइलिस्ट हैं जबकि इस कार्यक्रम की गेस्ट ऑफ़ ऑनर हैं सुश्री सोनाली अयंगर, स्नेहा वासरिया,
(भारत की पहली महिला तबला वादक), ऐक्ट्रेस हेमा शर्मा, श्री राजू नाग, श्री दिनेश वाला, श्री अजय सोनावले, रेणुका और कई अन्य
इस अवसर पर उपस्थित रहेंगे। एसिड सर्वाइवर्स महिलाएं भी इस समारोह में मौजूद होंगी, वे कोरोना काल के अपने अनुभव के बारे में कुछ शब्द कहेंगी। ऑल इन वन सुपर मार्केट का पता है – फातिमा/फरहत मंज़िल, 263 ए आर 4, बाज़ार रोड, हाई लैंड कोर्ट के करीब, बांद्रा पश्चिम मुंबई 400050.
उललेखनीय है कि ASSF एक पहल है, यह संस्था 2016 में श्रीमती दौलत बी खान द्वारा शुरू की गई, जो खुद एसिड अटैक की शिकार थी। इस फाउंडेशन की फाउंडर के रूप में दौलत बी खान ने कई उललेखनीय कार्य किए हैं। और ए एस एस एफ फाउंडेशन के डायरेक्टर कृष्णकुमार ने बैग बनाने के वर्क शॉप्स का आयोजन किया। और कई इवेंट्स का आयोजन करके एसिड अटैक की शिकार महिलाओं की भलाई के लिए फंड जमा किए। एक तरह से कृष्णकुमार और दौलत बी खान जोड़ी ने वह ऐसी औरतों की सेवा में लगे रहे और अपने तमाम सोशल नेट वर्क्स के जरिए ऐसी महिलाओं के हित के लिए लगातार काम करती रहीं। संस्था के वॉइस प्रेसिडेंट अखिल शेट्ठी कार्य का भी योगदान उल्लेखनीय है.
इस फाउंडेशन का उद्देश्य एसिड पीड़ितों को आश्रय प्रदान करना है, साथ ही एसिड हमले के बारे में जागरूकता फैलाने, हमले के बाद पैदा होने वाले हालात पर ध्यान केंद्रित करना, इसके परिणाम और समाज की वर्जना के खिलाफ लड़ने के लिए सर्वाइवर्स को जागरूक करना इसका मकसद है।
यह एनजीओ उन रोगियों को पुनर्वास प्रदान करती है जिनमें चिकित्सा सुविधाएं, शिक्षा, कानूनी, नैतिक और वित्तीय सहायता शामिल हैं।
इस फाउंडेशन ने अब तक कई एसिड की शिकार महिलाओं को बड़ी सर्जरी कराने में मदद की है, उनकी बुनियादी मानवीय जरूरतों को पूरा किया है और उनके लिए विवाह की व्यवस्था करके उन्हें एक सामान्य जीवनशैली प्रदान करने की कोशिश की है जैसे कि सुश्री.ललिता और सुश्री कमल। इस नेक काम में एक बड़ा सहारा
एंपल मिशन के मालिक डॉ अनिल मुरारका द्वारा प्रदान किया गया।
एएसएसएफ ने अब तक 30 से अधिक एसिड पीड़ितों को सहायता प्रदान की है जिसमें 9 एसिड हमले की शिकार औरतों की सर्जरी शामिल है।
हमारा नज़रिया ASSF का विज़न यह है कि एसिड हमसे से मुक्त दुनिया हो जहां सर्वाइवर्स और कार्यकर्ता इस नेक काम के लिए मिलकर काम करें। यह पीड़ितों के प्रति सामाजिक धारणा को बदलने से ही संभव हो सकता है। समाज को
एसिड पीड़ितों को पीड़ित के रूप में नहीं देखना चाहिए बल्कि उन्हें विजेताओं के रूप
देखना चाहिए। उन्हें बड़े पैमाने पर सम्मान से भरा होना चाहिए, ताकि वे अपने रास्ते में किसी भी बाधा को न देख सकें। दूसरा पहलू यह है कि हर औसत व्यक्ति एसिड हमले की शिकार महिला की मदद करे जो
एसिड हिंसा के बारे में सुनता है। हर शख्स इस लड़ाई में एक सक्रिय भागीदार के
रूप में सामने आए न कि सिर्फ अफ़सोस ज़ाहिर करके रह जाए।
            

हमारा लक्ष्य ASSF का मुख्य लक्ष्य पीड़ितों और बचे हुए लोगों को हर संभव सहायता प्रदान करना है। यह एनजीओ एसिड विजेताओं को एक घर का सहारा प्रदान करने पर गहरा ध्यान केंद्रित कर रही है, जिसमें एक कार्यशाला भी होनी चाहिए जहां वे अपने हाथों से बैग, कुशन और एंटीक चीजें बनाकर अपनी आजीविका कमा सकते हैं। दौलत बी एक ऐसा बड़ा डिपार्टमेंटल स्टोर खोलने का सपना और महत्वाकांक्षा रखती हैं जो स्वयं एसिड अटैक के खिलाफ जंग जीत चुकी महिलाओं द्वारा संचालित हो गा। इन छोटे लेकिन बड़े कदमों को उठाकर एसिड शिकार से उभरी महिलाएं अपने पैरों पर खड़ी हो सकती हैं और समाज में अपनी योग्यता साबित कर सकती हैं।
इस सुपरमार्केट को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य एसिड हमले की पीड़ितों को व्यवसाय से अपनी रोज़ी कमाने में मदद करना है। यह दुकान
सप्ताह में 6 दिन खुली रहेगी। यह व्यवसाय एसिड हमले से बचे लोगों को उनके जीवन में आत्म-निर्भर बनने में मदद करेगा।
इस पहल का प्रभाव एसिड अटैक सर्वाइवर्स के लिए एक स्वतंत्र और आत्मनिर्भर जीवन होगा। यह इवेंट हर किसी को कड़ी मेहनत करने के लिए प्रोत्साहित करे गा जो भी इस पहल का एक हिस्सा है। कृष्णा कुमार – डायरेक्टर, एसिड सर्वाइवर्स साहस फाउंडेशन बांद्रा पश्चिम मुंबई और पीआरओ रमाकांत मुंडे (मुंडे मीडिया)

छायाकार : दिनेश परेशा

Read More

Octogenarian Journalist Mark Tully Laments Sensationalism Of TV News Channels Prefers To Turn On The Radio

Octogenarian Journalist Mark Tully Laments Sensationalism Of TV News Channels  Prefers To Turn On The Radio

ऑक्टोजेरियन पत्रकार मार्क टुली कहते हैं, टीवी चैनलों की तुलना में रेडियो पर न्यूज सुनना ज्यादा बेहतर

13 अक्टूबर 2020, कोलकाता: ऑक्टोजेरियन पत्रकार मार्क टुली ने टीवी चैनलों पर सनसनीखेज घटनाओं पर दिनभर चलनेवाले सिलसिलेवार कवरेज पर नाराजगी जतायी। उन्होंने कहा कि भारत में कुछ घटनाओं को इतने बड़े आकार में दिखाया जाता है, जैसा काफी बड़ा मामला हो और कुछ मामलों को इतना छोटा दिखाया जाता है, सबकुछ ऐसे पेश किया जाता है जैसे कि कुछ हुआ ही न हो। मुझे लगता है कि आपके पास मीडिया ट्रायल की छूट है, इसका मतलब यह नहीं कि किसी व्यक्ति को दोषी बना दिया जाये। काफी बार व्यक्ति को दोषी नहीं पाया जाता है, लेकिन हम उस बारे में अपना ध्यान दोबारा नहीं ले जाते। मैं अक्सर टीवी पर समाचार बुलेटिनों से खुद को दूर कर लेता हूं, क्योंकि वे उसी तरह के सनसनीखेज कवरेज को दिखाते हैं जो उस दिन की बड़ी खबर होती है, हालांकि इसकी कोई पृष्ठभूमि नहीं होती। सर मार्क टली ने यह भी कहा कि, हमे यह भयावह और दु:खद लगती है कि एक “सेवारत पुलिस फोर्स” के बजाय एक “दासी पुलिस फोर्स” की औपनिवेशिक प्रथा भारत में धीरे-धीरे चालू हो रही है।

कोलकाता की सुप्रसिद्ध सामाजिक संस्था प्रभा खेतान फाउंडेशन द्वारा आयोजित एक घंटे के ऑनलाइन वेबिनास सत्र ‘टेट-ए-टी’ में तीन दशकों तक दक्षिण एशिया में बीबीसी की आवाज़ रहनेवाले सर विलियम मार्क टुली ने कोलकाता में अपने बचपन की यादों को ताजा किया, क्यों कि यह उनका जन्मस्थान रह चुका है। उन्होंने करी बनाने को लेकर अपने विचार साझा किया, इसके साथ यहां के रेडियो और रेलवे के प्रति उनका प्रेम और लगाव को भी साझा किया। इस चर्चा सत्र में लंदन से जुड़ी कन्वेंशनिस्ट लेडी मोहिनी केंट नून के साथ वैचारिक आदान प्रदान के दौरान सर विलियम मार्क टुली ने पत्रकारिता, मीडिया ट्रायल, भारत में पुलिसिंग, औपनिवेशिक विरासत और महिलाओं की दुर्दशा से जुड़े कुछ प्रमुख मुद्दों पर अपनी प्रतिक्रिया दी।

मार्क टुली ने समझाया, टीवी चैनलों के मालिक और उनके सहयोगी ज्यादा से ज्यादा दर्शक पाने के लिए जुनूनी होते हैं और इसलिए वे इसके प्रसारन से जुड़े नियम से कभी-कभी हट भी जाते हैं। टीवी समाचार में अलग विचार का पालन होता हैं। मैं रेडियो में बहुत दृढ़ता से विश्वास करता हूं। अब भी, अगर मैं मनोरंजन करना चाहता हूं तो मैं अक्सर टेलीविजन की बजाय रेडियो की ओर रुख करता हूं।

1935 में पद्म श्री और पद्म भूषण के प्राप्तकर्ता सर मार्क टुली ने तीन दशक (1964 से 94) तक के करियर में एक पत्रकार के रूप में उपमहाद्वीप में सदी के कुछ ऐतिहासिक घटनाओं को कवर किया था। बीबीसी संवाददाता के रूप में उन्होंने भारत-पाक संघर्ष, शिमला शिखर सम्मेलन, भोपाल गैस त्रासदी, आपातकाल लगाने, ऑपरेशन ब्लू स्टार, इंदिरा गांधी की हत्या, सिख विरोधी दंगों, राजीव गांधी की हत्या, बाबरी मस्जिद के विध्वंस और कई अन्य बड़ी घटनाओं को उन्होंने सफलतापूर्वक कवर किया। वह 20 वर्षों तक नई दिल्ली में बीबीसी के ब्यूरो प्रमुख भी रह चुके हैं।

भारत में मौजूदा औपनिवेशिक विरासत पर टिप्पणी करते हुए मार्क टुली ने कहा, भारतीय जीवन में अभी भी बहुत सारी औपनिवेशिक विरासतें हैं। यहां पुलिसकर्मियों से काफी ज्यादा हड़ताली है जो समाज की प्रगति के लिए नुकसानदायक हैं। पुलिस बल दो प्रकार के होते हैं, दासी और सेवारत प्रवृति। दासी पुलिस बल की सर्वोच्च प्राथमिकता कानून और व्यवस्था बनाए रखना है और सेवारत पुलिस बल का काम जनता की सेवा करना है। औपनिवेशिक शासन में भारत में दासी पुलिस बल था जो सरकार का समर्थन करता था चाहे वह सही हो या गलत, कानूनी हो या अवैध। मौजूदा स्थिति के मुताबिक भारत को एक सेवारत पुलिस बल की आवश्यकता है, जो समाज की जरूरतों के हिसाब से समाज के लोगों की सेवा में तत्पर हो।

उन्होंने आगे कहा, हाल ही में एक पुलिस की एक भयानक तस्वीर सामने आयी जिसमें बेरहमी से सामूहिक दुष्कर्म की शिकार हुई एक लड़की के परिवार द्वारा मना करने के बावजूद पुलिस ने उसके परिवार को दाह संस्कार में शामिल होने से रोक दिया और खुद पीड़िता का शव रात के अंधेरे में जला दिया। हमने यह भी देखा कि पुलिस अधिकारी किस तरह से पीड़िता के परिवार से बात कर रहे थे। समाज के लिए यह एक भयानक दृश्य था, क्योंकि उस समय समाज के सामने एक पूर्ण दासी पुलिस का चेहरा सामने आया था। वैसे हर कोई भारत में पुलिस से डरता है, कोई भी पुलिसकर्मी को उनकी मदद करने के लिए नहीं कहना चाहता है, इस तरह की स्थिति से यह स्पष्ट है।

मार्क टुली ने अपने जीवन की कुछ और यादें ताजा करते हुए कहा कि, मुझे दार्जिलिंग के एक ब्रिटिश बोर्डिंग स्कूल में भेजा गया था। मैं वास्तव में सफेद रंग के एक छोटे से तालाब में पैदा हुआ था क्योंकि हमारा पूरा जीवन सफेद था। हमारा कोई भारतीय मित्र नहीं था। मुझे बचपन में हिंदी सीखने का सौभाग्य नहीं मिला।

रेलवे में स्टीम इंजन का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा, जिसे मै कवर करने जा रहा था उस बड़े और विशाल दूरी के इस परिवहन के साधन से मै हमेशा मोहित था। मुझे स्टीम इंजन पसंद हैं इसके कारण मैं इंडियन स्टीम रेलवे सोसाइटी का उपाध्यक्ष भी बना। मुझे लगता है कि भाप इंजन एक इंसान की तरह काफी बहुत मनमौजी हैं, इसे अच्छी तरह से ड्राइव करना काफी मुश्किल है, आपको उनमें बहुत सारी अलग-अलग चीजों के बारे में जानकारी रखनी होगी। लेकिन एक भाप इंजन की गति का दृश्य काफी शानदार होता है।

   

यह पूछे जाने पर कि वह अभी भी अपने शानदार जीवन में क्या हासिल करना चाहते हैं, इस सवाल के जवाब में नौ किताबों के लेखक मार्क टुली ने कहा, “मैं एक और किताब लिखना चाहता हूं, क्यों कि इसे लिखकर इसके जरिये अपनी हिंदी को सुधारना मेरे दिल की सबसे बड़ी ख्वाइस है।”

Read More

Dipti Shendre Winner Of Joil Entertainment’s Miss Universe 2020 As 1st Runner Up With Subtitle Winner Miss Photogenic

Dipti Shendre Winner Of Joil Entertainment’s  Miss Universe 2020 As 1st Runner Up  With Subtitle Winner Miss Photogenic

Name : Dipti Shendre

Winner : Miss Universe 2020 1st runner-up

With subtitle winner:  Miss Photogenic.

My age is 18 years. From city of lakes Bhandara. Currently persuing b tech in computer science.

Since i was a child i grew up thinking to be Miss Universe one day by admiring Miss Sushmita Sen mam. I started modeling from 6 years of my age in 2008. As i was having intrest in extra activities , so teachers offered me to take part in a fashion show. I was very excited for the show so i win the title of Miss beautiful. After a long gap in modeling i re-start my hobbie again in 2017 . I get to know about some shows through my mentors. I started giving auditions and got selected for finale. I did alot many shows and pageants. Recently achived title of Miss Universe 2020 1st runner-up and miss Phtogenic . And archived many awards like Miss Asia international talented 2020 . Miss India glam icon miss talented 2020. Miss Vidharbha 2019. Miss Phtogenic Nagpur 2017.

Even i have judge many shows like Miss tumsar and 2 more in my locatily . I specially want to thank my family my mom dad and brother for their support and encouragement. Thanku for being their for me.

Especially thanks to mr. Sandy Joil sir , priya mam for giving me wonderful opportunity. Thanku for grooming me so well .

            

This is my lifetime achievement and want to thank each n everyone who made this thing possible.

Read More

Yash Thorat The 1st Runner Up Of Mr Universe 2020 With Subtitle Of Mr Talented A Pageant Presented by Joil Entertainment

Yash Thorat The 1st Runner Up Of Mr Universe 2020 With Subtitle Of  Mr  Talented A Pageant Presented by Joil Entertainment

Name : Yash Thorat

Winner :Mr Universe 2020 1st Runner Up

Subtitle : Mr. Talented

My age is 19.. Finally I can say my dream came of being mr. Universe2020 ,but I can say I got it & I think Success is no accident ,it is a hard Work, perseverance, learning , studying & sacrifice and most of all love of what u are  or learning to do .,now I am working as model .I have a huge passion for acting & now I love be in front of Cammera .now I mainly love being in front of Cammera.

During my this journey I faced many circumstances and I think Life is journey of circumstances we just have to learn from it & mould from it …,I was always got attracted towards the models,& when I used to see the shows on television I used to think when I would be like this…but fortunately I got opportunity bcoz of lSandy sir ,he gave me the opportunity to prove myself ,I participated in many fashion weeks & learned many things .  I thankful to my mom & my brother sunny that because of them I achieved the great award..My brother helped. In every period of my life because oh him I on this position.

      

He gaved examples of many great personalities.He is my idol ,mentor & everything& special thanks to Priya mam,Sandy sir gave me an opportunity to be a part of this show & groomed us so well.

Read More

Miss Samiksha Bhosle Winner Of Prestigious Award Miss Universe 2020 An Pageant By Sandy Joil

Miss Samiksha Bhosle  Winner Of Prestigious Award  Miss Universe 2020 An Pageant By Sandy Joil

Name : Miss Samiksha Bhosle

Winner : Miss Universe 2020

Subtitle:  Miss Talented 2020

Also bagging one more title of Miss Talented 2020 from the same pageant which was conducted in the city Of dreams Mumbai. My Home town is Ahmednagar the largest District in the State and I completed my graduation in Bachelors of Commerce. My family includes my parents younger sister and brother. My father Mr. Ravindra Bhosle he is a businessman and owner of Shree Sadguru Krupa Industries ( LED light Manufacturing). My mother Suman Bhosle not only house wife but also a helping hand to my father in business. My sister Snehal Bhosle is preparing for being a Physiotherapist , Brother Omkar Bhosle is a student of Mechanical engineering.

Currently, I am handling my dad’s business and apart from this, I have two Insurance company agencies, life Insurance Corporation and Star Health insurance . I have also achieved 2 awards from LIC the Thane challengers Cup ( Second Runner up ) 2019, and January Mahayagya speed 20 – 20

 

I would like to thank Mr.Sandy joil to give me a good platform to prove myself and I would also like to thank the entire team, my groomers my mentors those who have always guided me, trained me and encouraged me. I also thank my parents my family members, friends to always support me.

Read More
content top